नेशनल मीडिया कॉउन्सिल ट्रस्ट की स्थापना मीडिया के सभी माध्यमों को देश निर्माण के लिए प्रेरित करने के लिए हुई है। हमारा स्पष्ट मानना है की खबर दिखाना व मनोरंजन करने के साथ ही मीडिया का सबसे प्रमुख कार्य राष्ट्र निर्माण के लिए कार्य करना है जो की नागरिकों को जागरूक किये बिना नहीं हो सकता। नेशनल मीडिया कॉउन्सिल ट्रस्ट का यह भी मानना है की आज सोशल मीडिया के दौर में हर नागरिक मीडिया कर्मी हो चुका है जो कुछ न कुछ किसी न किसी रूप में बोल रहा है कुछ न कुछ किसी संवाद माध्यम पर लिख रहा है। यदि सोशल मीडिया के दौर के इस नागरिक को थोड़ा सा लोक प्रशासन , संविधान , कानून , पत्रकारिता का प्रशिक्षण दे दिया जाये और साथ ही संगठित होकर अपनी समस्याओं से मुक़ाबला करना सिखा दिया जाये तो इससे वह सरकार में सीधी भागीदारी करने लगेगा। व्यवस्था का आँख और कान बन जायेगा। नागरिकों के सशक्त होने से ही लोकतंत्र विकसित और सशक्त होगा।इसके लिए नेशनल मीडिया कॉउन्सिल ट्रस्ट ने बहुत से कार्यक्रम तैयार किये हैं।


नेशनल मीडिया कॉउन्सिल ट्रस्ट का स्पष्ट मानना है की विधायिका , कार्यपालिका ,न्यायपालिका व मीडिया को राष्ट्र निर्माण के मुद्दों पर मिल कर कार्य करना चाहिए और मीडिया को केवल समस्या बताने की जगह समाधान में भी अपनी भूमिका निभानी चाहिए।कोआपरेटिव मीडिया की स्थापना भी नेशनल मीडिया कॉउन्सिल ट्रस्ट  की सोच का हिस्सा है जिसकी समझ यह है की मीडिया विशेषकर पत्रकारिता क्षेत्र जनता के लिए जनता द्वारा संचालित किया जाये और विज्ञापन पर निर्भर न  हो।

ADDRESS
© 2020 All Rights Reserved. National Media Council Trust
Natinal Media Council

Members Login

Open chat